Bihar Samanya Gyan-Full Information In Hindi By-Dr. Manish Ranjan (IAS)

Bihar Samanya Gyan-Full Information In Hindi -Hello Friends आज का हमारा post उन तमाम Competitive exams की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए है जो बिहार से सम्बन्ध रखते है |आप सभी छात्र बिहार से जुड़े competitive exams को आसानी के साथ Clear कर सकें इसके लिए हमने आप सभी ले लिए ‘Bihar Samanya Gyan (बिहार सामान्य ज्ञान)’ की महत्वपूर्ण और मूलभूत जानकारी आप लोगों के लिए PDF के माध्यम से share कर रहे हैं | जो छात्र इस वक्त प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं ओ छात्र इस Notes को नीचे दिये गये Button के माध्यम से बिहार सामान्य ज्ञान के इस PDF Notes को download का सकते हैं |

गौरवशाली अतीत एवं प्रेरणादायक परंपराओं से ओत-प्रोत बिहार की धरती को महान विभूतियों की जन्मस्थली एवं कर्म स्थली होने का गौरव प्राप्त है| प्रकृति की सुंदरता एवं ऐतिहासिक विरासत की संपूर्णता को समेटे हुए बिहार ना केवल संस्कृति के उद्भव का साक्षी रहा है, बल्कि विश्व के प्रथम गणतंत्र की भूमि भी है| बिहार प्राचीन काल से ही विश्व को शासन, शांति, सत्य एवं अहिंसा का उपदेश देता रहा है| बुद्ध, महावीर, आर्यभट्ट, चाणक्य जैसे प्राचीन मनीषियों से लेकर आधुनिक युग में लोकनायक जयप्रकाश एवं देशरत्न राजेंद्र प्रसाद जैसे महान विभूतियों की जन्मस्थली तथा कर्मस्थली रहा है| प्रत्येक कालखंड में बिहार ने राष्ट्र के विकास में अग्रणी भूमिका निभाई तथा विश्व समुदाय को नई दिशा एवं नया संदेश दिया है| बिहार ने अपनी बौद्धिक एवं प्राकृतिक संपदा के कारण राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर उपस्थित दर्ज कराई है| प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय को अंतरराष्ट्रीय नालंदा विश्वविद्यालय के रूप में पुनर्जीवित करना इसका उदाहरण है|

यह सत्य है कि अतीत के सुनहरे पल में जीने वाला बिहार बाद के वर्षों में राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पिछड गया एवं देश के अन्य राज्यों के साथ कदम से कदम मिलाकर चलने में असमर्थ रहा, लेकिन पिछले दशक में राज्य ने पुनः कार्य के बल पर तीव्र गति से विकास करने वाले राज्यों में अपना स्थान बना लिया|

इस पुस्तक को 45 अध्यायों में विभाजित किया गया है| विभिन्न अध्ययनों में बिहार का इतिहास, कला एवं लोक-संस्कृति, भौगोलिक, आर्थिक, राजनैतिक, एवं समकालीन स्थिति का तथ्परक एवं सारगर्भित विश्लेषण प्रस्तुत किया गया है|
बिहार की ऐतिहासिक जानकारी को पुस्तक में 6 अध्यायों में समाहित किया गया है| कला एवं संस्कृति विविध पक्षों एवं बिहार की विभूतियों तथा खेल-कूद से संबंधित भागों को 6 अध्यायों में वर्णित किया गया है| राज्य की भौगोलिक स्थिति एवं आपदा से संबंधित विवरण को 13 अध्यायों में वर्णित किया गया है| राजव्यवस्था, अर्थव्यवस्था एवं राज्य के आर्थिक विकास की नीतियों को 12 अध्याय में वर्णित किया गया है| इसके अतिरिक्त राज्य के विभाजन का प्रभाव, विशेष राज्य का दर्जा, सुशासन एवं विकास से संबंधित संभावनाएं, बिहार दिवस एवं समसामयिकी से संबंधित घटना चक्र को 7 अध्यायों में वर्णित किया गया है| इसके अतिरिक्त सांख्यिकी उपस्थापन विशिष्ट आज विषयों से संबंधित अध्याय सम्मिलित है|

Contents :Bihar Samanya Gyan-Full Information In Hindi

  • इतिहास के स्त्रोत
  • प्राक- ऐतिहासिक काल एवं प्राचीन काल
  • मध्यकाल
  • आधुनिक काल
  • स्वतंत्रता आंदोलन
  • पृथक बिहार आंदोलन
  • वास्तु कला एवं चित्रकला
  • लोक संस्कृति
  • मेले एवं त्यौहार
  • साहित्य एवं साहित्यकार
  • बिहार की विभूति
  • शिक्षा, स्वास्थ्य एवं खेलकूद
  • स्थिति एवं उच्चावच
  • अपवाह प्रणाली
  • जलवायु एवं मिट्टी
  • वन एवं वन्य जीव-जंतु
  • कृषि
  • सिंचाई के साधन
  • खनिज एवं उद्योग
  • आधारभूत संरचना
  • जनसंख्या एवं अधिवास
  • पर्यटन एवं पर्यटन स्थल
  • आपदा प्रबंधन
  • राज व्यवस्था
  • प्रशासनिक व्यवस्था
  • न्यायपालिका
  • स्थानीय व्यवसासन
  • प्रमुख आर्थिक संकेतक
  • गरीबी
  • बेरोजगारी
  • केंद्र एवं राज्य प्रायोजित योजनाएं
  • वित्तीय प्रणाली
  • नीतियां
  • आर्थिक सर्वेक्षण (2016-17)
  • बजट (2017-18)
  • राज विभाजन का प्रभाव
  • विशेष राज्य के दर्जे की मांग एवं विशेष पैकेज
  • नक्सलवाद
  • बिहार में आर्थिक पिछड़ेपन एवं विकास की संभावनाएं
  • सुशासन एवं सात निश्चय
  • बिहार दिवस
  • समसामयिकी
  • सांख्यिकी उपस्थापना
  • प्रश्नावली सेट
  • परिशिष्ट

Bihar Samanya Gyan-Full Information In Hindi- Live Preview

You May Also Like This

Friends, if you need an eBook related to any topic. Or if you want any information about any exam, please comment on it. Share this post with your friends on social media. To get daily information about our post please like my facebook page. You can also join our facebook group.

Disclaimer: Sarkari Book does not own this book, neither created nor scanned. We just provide the link already available on the internet. If anyway it violates the law or has any issues then kindly mail us: sarkaribook.com@gmail.com

error: Content is protected !!