Eligibility for Become Judge in High Court of any state

0

Eligibility for Become Judge in High Court: दोस्तों देश में कानून व्यवस्था को लागू करने के लिए देश के अनेक न्यायपालिका उत्तरदाई होती हैं। कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए जितनी पुलिस जिम्मेदार होती है उतनी ही राज्य में उपस्थित है कोर्ट भी उत्तरदाई होती है। आज के लेख में हम आपको हाई कोर्ट में जज बनने के लिए किन पात्रता (Eligibility for Become Judge in High Court) की आवश्यकता होती है? सभी जानकारी के बारे में चर्चा करेंगे। मेरी न्यायधीश के पद पर कार्य करने वाले व्यक्ति समाज में सबसे सम्मानित व्यक्ति माने जाते हैं। देश में उपस्थित हाई कोर्ट में जज बनने के तरीके से पहले हम देश में उपस्थित विभिन्न न्यायपालिका के संगठन के बारे में जानकारी पर चर्चा करेंगे। सवाई शुरू करते हैं, और आप तो न्यायपालिका से संबंधित जानकारी साझा करते हैं।

Eligibility for Become Judge in High Court of any state

भारत में उपस्थित कोर्ट
(Eligibility for Become Judge in High Court)

Best Study Material For Defence Aspirants

भारत के संविधान को बनाए रखने के लिए देश के अलग-अलग राज्यों में विभिन्न कोर्टों को स्थापित किया गया है। हमारे देश में मुख्यतः तीन प्रकार के कोर्ट होते हैं जो निम्न है।

सर्वोच्च न्यायालय (supreme court)

  • सुप्रीम कोर्ट भारत के संविधान के अनुसार सर्वोच्च न्यायालय होता है।
  • इन कोर्ट में समीक्षा की शक्ति के साथ साथ मुकदमे की अपील करना और न्यायालय से संबंधित सलाहकार किस शक्ति होती है।
  • वर्तमान समय में भारत के सुप्रीम कोर्ट में मुख्य न्यायाधीश के सहित लगभग 31 जज उपस्थित हैं।
  • सर्वोच्च न्यायालय में जज की नियुक्ति भारत के राष्ट्रपति द्वारा कॉलेजियम के परामर्श के बाद होती है। जो कि भारत के मुख्य न्यायाधीश और सर्वोच्च न्यायालय के चार वरिष्ठ न्यायाधीशों का एक मंच होता है।
  • सर्वोच्च न्यायालय में जज के रूप में नियुक्त होने के लिए, व्यक्ति को भारत का नागरिक तथा कम से कम 5 वर्षों तक उच्च न्यायालय में न्यायाधीश होने का अनुभव होना आवश्यक है।
  • इसके अतिरिक्त उम्मीदवार का एक वकील होना आवश्यक है।
  • 65 वर्ष की आयु में न्यायाधीश रिटायर हो जाते हैं।

उच्च न्यायालय (High court)
(Eligibility for Become Judge in High Court)

  • राज्य के सर्वोच्च न्यायालय उच्च न्यायालय होती है।
  • यह भारत के सर्वोच्च न्यायालय के नीचे किंतु राज्य के अन्य अधीनस्थ कोर्ट के ऊपर संचालित होती है।
  • प्रत्येक हाई कोर्ट में एक मुख्य न्यायाधीश और कुछ अन्य न्यायाधीश होते हैं।
  • उच्च न्यायालय में जज के रूप में नियुक्त होने के लिए, व्यक्ति का भारत का नागरिक होना आवश्यक है।
  • इसके अतिरिक्त भारत के किसी भी न्यायालय कार्यालय में 10 वर्ष का अनुभव होना जरूरी है।
  • उम्मीदवार दो या अधिक वर्षों से उच्च न्यायालय में वकील के रूप में कार्य कर रहा हो।
  • संविधान के अनुसार हाई कोर्ट में जज के रूप में नियुक्त होने के लिए कोई भी न्यूनतम आयु निर्धारित नहीं है।

अधीनस्थ न्यायालय (sub-ordinate court)
(Eligibility for Become Judge in High Court)

  • यह न्यायालय जिले स्तर पर कार्य करती हैं। इसलिए यह ने अधीनस्थ न्यायालय के रूप में जाना जाता है।
  • इन न्यायालयों में राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा धरती के लिए प्रतियोगी परीक्षाएं आयोजित की जाती है।
  • इन न्यायालयों में उम्मीदवार डिस्टिक जज, ज्वाइंड डिस्ट्रिक्ट जज, असिस्टेंट डिस्ट्रिक्ट जज, चीफ जज, चीफ प्रेसिडेंसी मजिस्ट्रेट, सेशन जज और असिस्टेंट जज के रूप में भर्ती होते हैं।
Related Posts
1 of 67

Eligibility for Become Judge in High Court

हाई कोर्ट में जज बनने के लिए उम्मीदवार को निम्न पात्रता ओं की आवश्यकता होती है। नीचे हम विस्तार पूर्वक इन पात्रताओं (Eligibility for Become Judge in High Court) के बारे में जानकारी दे रहे हैं।

  • जज बनने के लिए सर्वप्रथम उम्मीदवार को भारत के मान्यता प्राप्त विद्यालयों से उच्चतर माध्यमिक शिक्षा उत्तीर्ण करनी आवश्यक है।
  • अच्छे अंकों के साथ उम्मीदवार को कॉमन एडमिशन टेस्ट (common law admission test) पास करना होता है।
  • कॉमन लॉ ऐडमिशन टेस्ट, अंडर ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम में प्रवेश के लिए एक राष्ट्रीय स्तर के प्रवेश परीक्षा होती है।
  • यह परीक्षा राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालयो के संघ द्वारा आयोजित की जाती है।
  • इस परीक्षा के द्वारा उम्मीदवार 22 राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय में प्रवेश पा सकते हैं। और अंडर ग्रेजुएट तथा पोस्टग्रेजुएट के पाठ्यक्रम की पढ़ाई पूरी कर सकते हैं।
  • अंडर ग्रैजुएट प्रोग्राम (एलएलबी) में प्रवेश पाने के लिए उम्मीदवार 12वीं कक्षा पास हो तथा पोस्ट ग्रेजुएट अर्थात मास्टर ऑफ ला (LLM) में प्रवेश पाने के लिए कानून में स्नातक की डिग्री का होना आवश्यक है।
  • कॉमन लॉ ऐडमिशन टेस्ट की परीक्षा में अंग्रेजी लॉजिकल रीजनिंग, जनरल अवेयरनेस, कानूनी जागरूकता और कानूनी योग्यता के बारे में जानकारी से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं।

राज्य न्यायालय परीक्षाओं को पास करना

Eligibility for Become Judge in High Court:- स्नातक की डिग्री सफलता पूर्वक प्राप्त करने के पश्चात उम्मीदवार को किसी भी न्यायाधीश सेवा क्षेत्रों में सिविल जज और जिला न्यायाधीश के पद के लिए परीक्षा देनी होती है। यह परीक्षा राज्य न्यायालय लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित की जाती है। जिसमें 3 चरण होते हैं।

  • प्रारंभिक लिखित परीक्षा
  • मेंस
  • इंटरव्यू

इन तीनों चरणों को उत्तीर्ण करने के पश्चात राज्य सरकार की निचली न्यायपालिका में सदस्य के रूप में नियुक्ति दे दी जाती है।

पात्रता मानदंड (Eligibility for Become Judge in High Court)

  • आयु सीमा- उम्मीदवार की आयु कम से कम 21 वर्ष और अधिकतम 35 वर्ष होनी चाहिए।
  • शैक्षणिक योग्यता- उम्मीदवार के पास किसी भी विश्वविद्यालय से एलएलबी की डिग्री प्राप्त करना होता है।
  • जज बनने के लिए उम्मीदवारों को राज्य में बोली जाने वाली राज्य भाषाओं को पढ़ने लिखने एवं बोलने का अनुभव होना आवश्यक है।
  • राज्य भाषाओं को इंग्लिश में अनुवाद करने तथा इंग्लिश में लिखें आवश्यक दस्तावेजों को राज्य भाषाओं में परिवर्तित करने में कुशलता प्राप्त होनी चाहिए।
परीक्षाCLAT
उद्देश्यराज्य के कोर्ट में जज बनना
आयु सीमा21 से 35 वर्ष
वेतन (हाईकोर्ट)80,000 रुपए मासिक
वेतन (उच्च न्यायालय ) 2.80 लाख रुपये प्रति माह
वेतन (जिला न्यायालय )44840 रुपये प्रति माह
परीक्षा सेलेबसअंग्रेजी लॉजिकल रीजनिंग, जनरल अवेयरनेस, कानूनी जागरूकता और कानूनी योग्यता
प्रारंभिक योग्यता12 में उत्तीर्ण
योग्यताLLB और LLM में 55% से अधिक
अन्य योग्यताराज्य के राज्य भाषाओं को इंग्लिश में अनुवाद और पुनः राज्य भाषा में परिवर्तन
CLAT के द्वारा एडमिशनअंडर ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम में प्रवेश
जज के बाद सेनानिवृत की अवधि65 वर्ष

दोस्तों, ऊपर दी गई मानदंडों तथा परीक्षाओं के आधार पर उम्मीदवार किसी भी राज्य के न्यायालय में जज के पद पर कार्य कर सकते हैं। भारत में 2019 में मयंक प्रताप सिंह राजस्थान न्यायालय सेवा परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करके 21 वर्ष की आयु में ही जज बन गए। यदि आप भी इसी प्रकार अच्छे एवं मेधावी छात्र बनना चाहते हैं तो परीक्षा से जुड़ी हुई समस्त जानकारियां (Eligibility for Become Judge in High Court) एवं पुस्तकों का अवश्य ध्यान करें। यदि आपको आज की जानकारी अच्छी लगी हो तो आप अपनी राय हमारे कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। यह क्या कार्य को अन्य लोगों का जरूर शेयर करें।

20+ Free Mocks For RRB NTPC & Group D Exam

Attempt Free Mock Test

10+ Free Mocks for IBPS & SBI Clerk Exam

Attempt Free Mock Test

10+ Free Mocks for SSC CGL 2020 Exam

Attempt Free Mock Test

Attempt Scholarship Tests & Win prize worth 1Lakh+

1 Lakh Free Scholarship