Types of computer and its uses

Types of computer and its uses:- दोस्तों, 21वीं सदी में हमने कंप्यूटर के सबसे छोटे स्वरूप का उपयोग करना सीखा| किंतु क्या आप जानते हैं, कि आज से 100 वर्ष पहले जब कंप्यूटर का आविष्कार किया गया| तब कंप्यूटर किस प्रकार के थे और उन्हें किन क्षेत्रों में उपयोग किया जाता था| आज के लेख में हम आपको कंप्यूटर के प्रकार और उनके उपयोग क्षेत्र के बारे में जानकारी देंगे| कंप्यूटर से संबंधित प्रश्न UPSC की परीक्षाओं में पूछे जाते हैं| जिन उम्मीदवारों ने UPSC की परीक्षा के लिए आवेदन पत्र भरे हैं| उनके लिए आज का लेख उपयोगी साबित होगा।

Types of computer and its uses

Types of computer and its uses

कंप्यूटर्स को उनके आकार एवं कार्य पद्धति के आधार (Types of computer) पर अलग-अलग भागों में बांटा जाता है| कंप्यूटर के आकार के आधार पर इन्हें 5 भागों में बांटा गया है।

Best Study Material For Defence Aspirants

1-माइक्रो कंप्यूटर (microcomputer) Types of computer

ये ऐसे कंप्यूटर होते हैं, जिस पर एक समय में केवल एक ही व्यक्ति कार्य कर सकता है| इन कंप्यूटरों में इनपुट के लिए कीबोर्ड और आउटपुट देखने के लिए मॉनिटर का उपयोग होता है| इस कंप्यूटर की कार्य क्षमता 1 लाख प्रति सेकंड होती है, और यह कंप्यूटर सामान्यता ऑफिस में निजी कामों के लिए प्रयोग किया जाता है| इसके अतिरिक्त इन कंप्यूटरों को घरों में मनोरंजन में एवं चिकित्सा क्षेत्र में भी उपयोग हेतु लाया जाता है| इन कंप्यूटरों के निम्न उदाहरण है- Apple IBM IMAC, MAC etc.

2- मिनी कंप्यूटर(mini computer) Types of computer

यह कंप्यूटर आकार में मेनफ्रेम कंप्यूटर से काफी छोटे होते हैं| इन कंप्यूटरों पर एक साथ कई यूजर्स काम कर सकते हैं| इनकी डाटा स्टोर करने की क्षमता और गति अधिक होती है| इन कंप्यूटरों में S0386 सुपर चिप का प्रयोग करके सुपर मिनी कंप्यूटर में बदला गया है| इन कंप्यूटरों का उपयोग कंपनी, यात्री आरक्षण, अनुसंधान केंद्रों में किया जाता है| इन कंप्यूटरों के उदाहरण निम्न है- AS400, BULL, HNDPXL, HP900, RISC 6000 etc.

3- मेनफ्रेम कंप्यूटर(mainframe computer) Types of computer

यह कंप्यूटर अन्य कंप्यूटरों से बहुत बड़े होते हैं| इनके कार्य करने की क्षमता एवं गति अन्य सभी कंप्यूटरों से अधिक होती है| इस कंप्यूटर सिस्टम पर एक साथ कई लोग कार्य कर सकते हैं |इसलिए इस कंप्यूटर को मल्टीटास्किंग कामों के लिए प्रयोग किया जाता है| इस कंप्यूटर में मल्टीटास्किंग ऑपरेटिंग सिस्टम का प्रयोग किया जाता है| जिसका निर्माण BELL ने अपनी प्रयोगशाला में किया है। इन कंप्यूटरों का उपयोग बैंकिंग, अनुसंधान केंद्र, रक्षा प्रणाली एवं अंतरिक्ष संस्थानों में किया जाता है। इन कंप्यूटरों के उदाहरण निम्न है- IBM-370, IBM S/390, UNMAC-1110 etc.

4- सुपर कंप्यूटर (supercomputer) Types of computer

ऐसे कंप्यूटर, जिनमें डाटा स्टोर करने के लिए विशाल भंडारण क्षमता तथा अत्यधिक तीव्र गति से प्रोसेसिंग करने वाले ऑपरेटिंग सिस्टम से युक्त कंप्यूटरों को सुपर कंप्यूटर कहते हैं| इन कंप्यूटरों का निर्माण उच्च क्षमता वाले हजारों प्रोसेसर को एक साथ समांतर क्रम में जोड़कर किया जाता है| इसमें मल्टिप्रोसेसिंग और समांतर प्रोसेसिंग का उपयोग किया जाता है| इन कंप्यूटरों का उपयोग एनिमेटेड ग्राफिक्स और परमाणु अनुसंधान केंद्रों में किया जाता है। इन कंप्यूटरों के उदाहरण निम्न है- CRAY-1, BARC, C-DEC, PARAM-8000 etc.

5- क्वांटम कंप्यूटर(Quantum computer) Types of computer

सुपर कंप्यूटर से भी तीव्र गति प्राप्त करने और कठिन से कठिन समस्याओं को कम समय में हल करने के लिए क्वांटम कंप्यूटर का विकास अंतिम चरण में है| क्वांटम कंप्यूटर में बायनरी बिट के स्थान पर क्यूबिट का उपयोग किया जाएगा। इस कंप्यूटर के तीन अन्य भाग हैं-

  1. नैनो कंप्यूटर (Nano Computer) –नैनोट्यूब्स जिनका व्यास एक नैनोमीटर तक होता है| उन ट्यूब्स के प्रयोग से अत्यंत छोटे व विशाल क्षमता वाले कंप्यूटर के विकास की परिकल्पना की गई है| नैनोटेक्नोलॉजी में पदार्थों की आणविक संरचना का उपयोग किया जाता है| जिसके कारण नैनो कंप्यूटर का उपयोग परमाणुओं की आंतरिक संरचना के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए किया जाएगा।
  2. डीएनए कंप्यूटर(DNA computer)- इन कंप्यूटरों में जैविक पदार्थ जैसे डीएनए या उनके प्रोटीन का उपयोग करके डाटा को सुरक्षित किया जाएगा और प्रोसेस किया जा सकता है| इसे बायो कंप्यूटर भी कहा जाता है।
  3. केमिकल कंप्यूटर(chemical computer)- इन कंप्यूटर में गणना करने के लिए पदार्थों के रासायनिक गुणों व सांद्रता का उपयोग किया जा सकता है।

कार्य पद्धति के आधार पर कंप्यूटर को पांच भागों में विभाजित किया गया है

1-अंकीय कंप्यूटर(digital computer)-Types of computer

सामान्य बोलचाल में हम जिस कंप्यूटर शब्द का उपयोग करते हैं उसका मतलब अंकित कंप्यूटर से होता है जिसकी गणना 0 या 1 से निरूपित की जाती है इन कंप्यूटर की गति तीव्र होती है आधुनिक डिजिटल कंप्यूटर में बायनरी पद्धति का प्रयोग किया जाता है इन कंप्यूटर का उपयोग लैब में पदार्थों के मात्रा की गणना करने में किया जाता है।

2- अनुरूप कंप्यूटर(analogue computer)Types of computer

एनालॉग कंप्यूटर में डाटा का निरूपण लगातार परिवर्तित होने वाली राशि के रूप में होता है| इन कंप्यूटर की गति अत्यंत धीमी होती है| जिसके कारण इन कंप्यूटरों का प्रयोग अब नहीं किया जाता है|

3- संकर कंप्यूटर(hybrid computer)

यह कंप्यूटर डिजिटल और एनालॉग कंप्यूटर का मिश्रित रूप है| इसमें इनपुट तथा आउटपुट कंप्यूटर के रूप में होता है| परंतु प्रोसेसिंग की क्रिया डिजिटल कंप्यूटर के रूप में होता है| इसमें एनालॉग से डिजिटल कन्वर्टर तथा डिजिटल से एनालॉग कन्वर्टर का प्रयोग किया जाता है।

4- प्रकाशीय कंप्यूटर(optical computer)

पांचवी पीढ़ी के कंप्यूटरों के विकास के इस क्रम में प्रकाशीय कंप्यूटर बनाए जा रहे हैं| इन कंप्यूटरों में एक-दूसरे को जोड़ने के लिए ऑप्टिकल फाइबर के तंतु प्रयोग में लाए जा रहे हैं, तथा गणना करने के लिए पद्धति अपनाई जा रही है।

5- एटॉमिक कंप्यूटर(atomic computer)

कनैगी विश्वविद्यालय में ऐसे प्रमाणिक कंप्यूटर बनाने के लिए कार्य किया जा रहा है| जो कि किसी खास प्रोटीन परमाणुओं को एकत्र करके एक परिपथ के रूप में बदल सके और कंप्यूटर को इतनी अधिक मात्रा में डाटा को एकत्र करने की क्षमता प्रदान करें| कि ऐसे कंप्यूटर आज के कंप्यूटर से लगभग 10000 गुना क्षमता वाला शब्द बन जाए।

Types of computer and its usesuse Example
कंप्यूटर के आकार के आधार
1-माइक्रो कंप्यूटर मनोरंजन तथा चिकित्सालय मेंApple IBM IMAC, MAC etc.
2- मिनी कंप्यूटरकंपनी, यात्री आरक्षण, अनुसंधान केंद्रAS400, BULL, HNDPXL, HP900, RISC 6000 etc
3- मेनफ्रेम कंप्यूटर बैंकिंग, अनुसंधान केंद्र, रक्षा प्रणाली एवं अंतरिक्ष संस्थानों मेंIBM-370, IBM S/390, UNMAC-1110 etc.
4- सुपर कंप्यूटर एनिमेटेड ग्राफिक्स और परमाणु अनुसंधान केंद्रों मेंCRAY-1, BARC, C-DEC, PARAM-8000 etc.
5- क्वांटम कंप्यूटर परमाणुओं की आंतरिक संरचना, बायो कंप्यूटर, पदार्थों के रासायनिक गुणों व सांद्रताnano कंप्यूटर,डी एन ए कंप्यूटर, केमिकल कंप्यूटर
कार्य पद्धति के आधार परuseExample
1- अंकीय कंप्यूटर लैब में पदार्थों के मात्रा की गणना करने मेंनिर्माणाधीन हैं
2- अनुरूप कंप्यूटर उपयोग में नही हैं|प्राचीनकाल में बने थे|
3- संकर कंप्यूटर डाटा को कन्वर्ट करने मेंनिर्माणाधीन हैं
4- प्रकाशीय कंप्यूटर अधिक डाटा संग्रह करने हेतुSlim Wired Computer
5- एटॉमिक कंप्यूटर रासायनिक पदार्थो के डाटा को संग्रह करने हेतुनिर्माणाधीन

दोस्तों आज के आर्टिकल में हमने कंप्यूटर के बारे( Types of computer and its uses) में जानकारी दी आज के आज का उपयोग करके आप यूपीएससी की परीक्षाओं में पूछे जाने वाले कंप्यूटर से जुड़े प्रश्नों को आसानी से कर सकते हैं यदि आपको आज का लेख पसंद आया हो तो हमारे कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है तथा इस आर्टिकल को अन्य लोगों तक जरूर शेयर करें।