What is APMC Act in Hindi| इस एक्ट से किसानों को होने वाले लाभ और हानि के बारे में विस्तार से जाने।

0

What is APMC Act in Hindi:- दोस्तों, मोदी सरकार द्वारा किसानों के लिए अनेक प्रकार की परियोजना और सेवाओं की शुरुआत की गई है। मोदी सरकार ने बीते माह किसानों की आय को बढ़ाने के लिए एक बिल पास किया। जिसके द्वारा किसान अपनी फसल के लिए बेहतरीन आय अर्जित कर सकता है। इस बिल के माध्यम से किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार की जा सकती है और किसानों के आय में बढ़ोतरी की जा सकती है। मोदी सरकार द्वारा लाएगा नया किसान बिल किसानों के हित के लिए बेहतर फायदेमंद साबित हो रहा है। किसान बिल को केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण और ग्रामीण विकास तथा पंचायती राज मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने 14 सितंबर 2020 को लोकसभा में प्रस्तावित किया। श्री नरेंद्र सिंह तोमर द्वारा 5 जून 2020 को अध्यादेश के रूप में इस बिल को रखा गया था। इस बिल का मुख्य उद्देश्य कृषि से मिलने वाले अनाज के व्यापार एवं वाणिज्य को मजबूत एवं सरलीकरण करना है। यह बिल लोकसभा में 17 सितंबर 2020 को पारित किया गया जबकि राज्यसभा में इस विधेयक को 30 नवंबर 2020 को पारित कर दिया गया है।

What is APMC Act in Hindi

What is APMC Act ?

Best Study Material For Defence Aspirants

APMC Act के अनुसार किसानों द्वारा उगाए गए अनाजों को बेहतर मूल्य एवं व्यापार को सुदृढ़ करने के उद्देश्य से पारित किया गया। लोकसभा में इस बिल को 17 सितंबर 2020 तथा राज्यसभा में 30 नवंबर 2020 को पारित किया गया। इस नियम के लागू होने से किसानों को अनेक प्रकार के फायदे होंगे। किंतु नए किसान बिल के आने से अनेक राज्यों के किसान किसान बिल विधेयक का विरोध कर रहे हैं। नीचे हम आपको एपीएमसी एक्ट के लागू होने से होने वाले लाभ एवं हानि के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी देंगे। मोदी सरकार द्वारा किसानों के हित के लिए अभी तक तीन प्रकार के बिल पारित किए गए जिनकी जानकारी निम्न है:-

KCC क्या है? Kishan Credit Card से कैसे लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं।

विधेयक 1 (What is APMC Act in Hindi)

इस विधेयक के अनुसार केंद्र सरकार ने राज्य के सभी किसानों को देश में कहीं भी फसल बेचने के लिए बाध्य नहीं किया है। जिसके कारण किसान अलग-अलग राज्यों में भी अपनी फसलों को बेच सकता है और मार्केटिंग तथा ट्रांसपोर्टेशन पर आने वाले खर्च को कम कर सकता है।

विधेयक 2 (What is APMC Act in Hindi)

इस विधेयक में सरकार ने किसानों पर राष्ट्रीय फ्रेमवर्क का प्रोविजन प्रस्तुत किया है। इस बिल से कृषि पैदावार ओं की बिक्री प्रोसेसर बड़े खुदरा विक्रेताओं और निर्यात आदि के क्षेत्रों में किसानों के जुड़ने से मजबूती प्रदान होगी। जिसके कारण कांट्रैक्टेड किसानों को बेहतर बीज की सप्लाई तथा केतु से जुड़ी बेहतर तकनीकी मुहैया कराई जाएगी।

विधेयक 3 (What is APMC Act in Hindi)

इस विधेयक में तिलहन अनाज, दाल, आलू, प्याज, खाने के तेल आदि जरूरी वस्तुओं को लिस्ट से हटाने का प्रावधान प्रस्तुत किया गया है। जिसके कारण किसानों को इन फसलों के बदले अच्छी कीमत प्राप्त होगी।

Related Posts
1 of 76

नया किसान बिल के मुख्य प्रावधान (What is APMC Act in Hindi)

भारत सरकार के द्वारा जारी किए गए नए किसान बिल के अंतर्गत निम्न प्रावधान प्रस्तुत किए गए हैं।

  • प्रत्येक किसान अपनी फसल को देश के किसी भी राज्य के हिस्से में भेज सकता है।
  • नए किसान बिल के अंतर्गत किसानों को फसल बेचने के लिए पूर्ण रूप से स्वतंत्रता दी गई है।
  • इस बिल के अनुसार किसान अपनी फसल को मंडी के अतिरिक्त बाहर किसी भी व्यापारी को बेच सकता है।
  • बिल के अनुसार, किसानों को किसी भी प्रकार का कोई भी उपकर देना नहीं होगा।
  • इस बिल के अनुसार किसान और व्यापारी एक दूसरे से सीधे जुड़ सकेंगे। बीच में किसी भी प्रकार के खर्च पर रोक लगा दी गई है।

How to apply for PM Kishan Scheme. PM किसान के लिए कैसे आवेदन करें।

APMC एक्ट से किसानों को होने वाले लाभ
(What is APMC Act in Hindi)

मोदी सरकार के नेतृत्व में नरेंद्र सिंह तोमर द्वारा प्रस्तावित नए किसान भील से किसानों को होने वाले फायदे निम्न है।

  • राज्यों के कृषि उत्पादन वितरण समिति के अधिकार में हानि नहीं होगी। इसलिए किसान सरकारी एजेंसियों में भी अपने फसल को बेच सकते हैं।
  • नए बिल के लागू होने से किसानों को अपने उत्पादों को बेचने के लिए दूसरे राज्यों के बाजार खुले रहेंगे।
  • अभी तक लागू किसान बिल के अनुसार किसानों को विभिन्न वस्तुओं पर एक से 10% तक बाजार शुल्क देना होता था। लेकिन नए किसान बिल को लागू करने से किसानों को किसी भी प्रकार का कर दे नहीं है।
  • किसानों को एपीएमसी टैक्स का भुगतान नहीं करना होगा और ना ही किसी अन्य दस्तावेज की जरूरत होगी।
  • इस बिल से खरीदार और विक्रेता दोनों को लाभ होगा। अर्थात अब निजी कंपनियों एवं व्यापारियों को ही एपीएमसी टैक्स का भुगतान करना होगा।
  • नए किसान बिल के पारित होने से किसान अब बड़े व्यापारियों एवं निर्यातकों के साथ जुड़ पाएंगे जिससे उन्हें आर्थिक लाभ प्राप्त होगा।
  • इस बिल से बाजार में होने वाली अनिश्चितताओं के जोखिम किसानों को किसी भी प्रकार का नुकसान नहीं होगा।

किसान बिल को लेकर आशंकाएं

अलग-अलग राज्यों के किसानों के मध्य सरकार द्वारा प्रस्तावित नए किसान बिल को लेकर अनेक प्रकार की आशंकाएं हैं। जिसको किसान अपने नुकसान अर्थात हानि के रूप में देख रहे हैं। नीचे हम इन्हीं आशंकाओं के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दे रहे हैं।

  • किसान संगठनों एवं विपक्षी पार्टियों का मत है, कि इस बिल के द्वारा नई मंडी के खुल जाने से सरकारी एजेंसियों की प्रोक्योरमेंट काफी कम हो जाएगी जिसके कारण किसानों के फसल पर निजी कंपनियां अपना अधिकार जमा लेंगे।
  • पंजाब एवं हरियाणा में उगने वाले चावल की पूरी उपज निजी कंपनियों पर निर्भर हो जाएगी।
  • किसानों को डर है, कि केंद्र द्वारा लागू किए गए इस बिल को भविष्य में अलग-अलग चरणों में समाप्त कर दिया जाएगा।
  • अलग-अलग राज्यों को मिलने वाले राजस्व खत्म हो जाएंगे।
  • यह देखो के अनुसार खाद्य पदार्थों के भंडारण पर मौजूदा प्रतिबंधों को हटाया जाना है। ऐसी आशंका जताई जा रही है, कि बड़े किसान जमाखोरों का सहारा लेकर छोटे किसानों को नुकसान पहुंचा सकते हैं।

सरकार के द्वारा जारी किए गए अध्यादेश अर्थात किसान बिल के पारित होने के कारण विपक्ष एवं किसान के मन में उठने वाली आशंकाएं के चलते राज्य के किसान नए किसान बिल का विरोध कर रहे हैं। जिसके कारण देश की राजधानी दिल्ली में तनाव जैसे माहौल बने हुए हैं।

अंतिम शब्द

(What is APMC Act in Hindi):- सरकार द्वारा पारित नए किसान बिल के अनुसार किसानों को अनेक प्रकार के फायदे प्राप्त होंगे । किंतु किसान व्यापारियों एवं विपक्ष सरकार की आशंकाओं के चलते किसान इस दिल का विरोध कर रहे हैं। तुलना करने पर ज्ञात होता है ,कि इस नए किसान बिल से किसानों को बेहद लाभ प्राप्त होंगे। यदि आप किसान बिल के अतिरिक्त अन्य किसी भी प्रकार की और जानकारियां प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे साथ जुड़े रहे। आप अपनी राय हमारी कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है।